top of page
  • dhadakkamgarunion0

*ABHIJEET RANE (AR)*

*ABHIJEET RANE (AR)*

शिवसेना के बागी विधायकों को मनाने में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे, राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय राउत समेत अनेक बड़े बड़े नेताओं की नाकामी के बाद उद्धव ठाकरे की पत्नी रश्मि ठाकरे ने मोर्चा संभाला है। रश्मि ठाकरे अब बागी विधायकों की पत्नियों से संपर्क करके उन्हें मनाने की कोशिश कर रही हैं। साथ ही उद्धव ठाकरे भी गुवाहाटी में ठहरे बागी विधायकों को मनाने के लिए लगातार मैसेज कर रहे हैं ।


 

*ABHIJEET RANE (AR)*

शिवसेना के बागी नेताओं के लीडर और विधायक एकनाथ शिंदे और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस के बीच जो खास मुलाकात वडोदरा में हुई है, उसमें केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद थे। यानी कि शिंदे जल्द ही भाजपा को अपने समर्थन का ऐलान कर सकते हैं। इस मुलाकात के बाद महाराष्ट्र में भाजपा ने शिंदे गुट के साथ सरकार बनाने की तैयारी तेज कर दी है।

 

*ABHIJEET RANE (AR)*

एकनाथ शिंदे प्रकरण के किसी मंजिल तक पहुंचने में अभी कुछ दिन और लगेंगे। शिंदे ग्रुप के विधायकों का गुवाहाटी में लंबे समय तक के लिए रुकने का इरादा है। क्योंकि विधायकों ने अपनी होटल बुकिंग को और आगे बढ़ा दिया है। पहले ये बुकिंग केवल 7 दिनों के लिए की गई थी, लेकिन अब इसे 30 जून तक के लिए और बढ़ा दिया गया है। यानी कि बागी विधायक 30 जून को मुंबई आ सकते हैं। और उसके बाद भी।

 

*ABHIJEET RANE (AR)*

विधायकों के बाद सांसद भी बगावत के मूड में!!!महाराष्ट्र में सियासी संकट गहराने के साथ अब विधायकों की तरह शिवसेना सांसदों के भी बगावती तेवर दिखने लगे हैं। लोकसभा में शिवसेना के 18 संसद हैं। इनमें से 8 सांसद शिंदे खेमे की तरफ आकर्षित नजर आ रहे हैं। बेचारे उद्धव ठाकरे!!!

 

*ABHIJEET RANE (AR)*

भाजपा को महाराष्ट्र में सरकार बनाने का दावा पेश करने की कोई जल्दी नहीं है, बल्कि वह तब तक इंतजार करेगी जब तक कि शिवसेना में बगावत के शोर का नकारात्मक असर नगर निगम और नगर निकाय स्तर पर उसकी ताकत पर ना दिखने लगे। एकदम सही रणनीति है यह। ऐसा ही होना चाहिए।

3 views0 comments

Comentários


bottom of page